स्कूल के प्राचार्य और 2 शिक्षक 15 छात्रों के साथ मिलकर 7 महीने से कर रहे थे छात्रा से गैंगरेप


देश भर में दुष्कर्म जैसे गंभीर अपराध पर रोक नही लग पा रही है हर दिन कहीं न कहीं दुष्कर्म की घटनाएँ सामने आ रही हैं अब ताजा मामला बिहार के सारण से सामने आया है। यहां एक प्राइवेट स्कूल में पढ़नेवाली नाबालिग लड़की ने स्कूल के प्रधानाध्यापक, 2 शिक्षक और 15 विद्यार्थियों पर सात महीने से गैंगरेप करने का आरोप लगाया है।

पीडिता का आरोप है कि सात महीने पहले एक छात्र ने क्लास में ही छात्रा का रेप किया था। लोकलाज के चलते उसने किसी को नहीं बताया, वहीं आरोपी छात्र ने यह बात दूसरे छात्रों को बता दी। आरोप है कि इसके बाद कई छात्र मिलकर पिछले छह महीने से छात्रा का रेप कर रहे थे।

यह भी पढ़ें: उन्नाव में महिला से रेप की कोशिश, महिला को जंगल में घसीटकर ले गए आरोपी

यह बात स्कूल के शिक्षकों तक पहुंची तो उन्होंने आरोपी छात्रों को रोकने के बजाय खुद इसमें शामिल हो गए. एक शिक्षक और प्राचार्य ने भी छात्रा के साथ रेप किया. यह सिलसिला कई महीने से चल रहा था।

15 छात्रों और प्राचार्य सहित दो शिक्षकों से गैंगरेप का दुख छात्रा के लिए असहनीय हो गया था. इसके बाद उसने एकमा थाने में मामले की शिकायत की है, जिसके बाद पुलिस ने चार आरोपी छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया है. बाकी के 13 छात्रों की तलाश जारी है।

पीड़िता के मुताबिक, उसके साथ दिसंबर महीने से ही हैवानियत की जा रही थी, लेकिन पुलिस के पास वह शुक्रवार को जा पाई क्योंकि उसके पिता कुछ महीनों से जेल में थे। पीड़िता ने अपनी एफआईआर में 18 लोगों को आरोपी बनाया है।

यह भी पढ़ें: केरल में कैथलिक चर्च के बिशप ने चार साल तक किया नन का बलात्कार, केस दर्ज

मेडिकल जांच के लिए छपरा लाई गई पीड़िता ने मीडिया को बताया कि दिसंबर में स्कूल के कुछ छात्रों ने स्कूल के शौचालय में उसका सामूहिक बलात्कार किया और विडियो बना लिया। पीड़िता को यह भी पता नहीं कि शौचालय में उसके साथ कितने लड़कों ने बलात्कार किया था। तब से लड़के विडियो के जरिए ब्लैकमेल करते हुए स्कूल में ही उससे सामूहिक दुष्कर्म करते रहे।