गोरखपुर के चर्चित डॉ. कफील के भाई समेत 2 पर पुलिस ने दर्ज किया जालसाजी का मुकदमा


गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौत के आरोपी बहुचर्चित डॉक्टर कफील खान के भाई अदिल और एक अन्य के खिलाफ पुलिस ने जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया है।

आदिल पर आरोप है कि उसने और फैजान ने 2009 में यूनियन बैंक में फर्जी खाता खुलवाया था। यह खाता फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस के जरिए खोला गया था. सीओ कोतवाली की जांच में मामला सही पाया गया. जिसके बाद एसएसपी के आदेश पर अदील और फैजान पर कैंट थाने में केस दर्ज कर पुलिस तफ्तीश में जुट गई है।

यह भी पढ़ें: कानपुर में महिला से हैवानियत: गैंगरेप के बाद निजी अंगों में डाली लकड़ी

गौरतलब है कि अदिल ने सोमवार को ही मीडिया में एक पत्र जारी कर फर्जी मुक़दमे में फंसाए जाने की आशंका व्यक्त की थी. उसने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा था कि भाई काशिफ को गोली मारे जाने के मामले में उच्च अधिकारियों से शिकायत करने पर पुलिस उन्हें, उनके दो भाई डॉ कफील और काशिफ को फर्जी मुकदमें फंसाने की साजिश कर रही है।

अदिल ने आशंका व्यक्त करते हुए कहा था कि उनके और भाईयों के खिलाफ कैंट या कोतवाली गोरखपुर में फर्जी मुकदमा दर्ज हो सकता है. परिवार का आरोप है कि सत्ताधारी नेताओं के शह पर फर्जी मुकदमे में फंसाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: केरल में कैथलिक चर्च के बिशप ने चार साल तक किया नन का बलात्कार, केस दर्ज

बता दें कि पिछले दिनों ही डॉ कफील के भाई कासिफ पर जानलेवा हमला किया गया था. इस हमले के बाद डॉ कफील ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए थे. कफील का आरोप था कि पुलिस असली अपराधियों को पकड़ने की जगह उनके करीबियों को ही परेशान कर रही है. दरअसल, गत शनिवार को पुलिस ने कासिफ के करीबी आशीष राज श्रीवास्तव उर्फ भोलू को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था. जिसके बाद पुलिस की थर्ड डिग्री का एक वीडियो भी वायरल हुआ था।