मुझे गर्व है मैं हिन्दू हूँ, मैं ईद नहीं मनाता, लाल झंडे के बाद अब लाल टोपी को डुबा देंगे- योगी


यूपी विधानसभा में मंगलवार का दिन काफी गर्म रहा। मंगलवार को अभिभाषण पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर करारा हमला बोला। योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘मैंने तब भी कहा था और आज भी गर्व के साथ कहता हूं कि मैं हिंदू हूं। मैं ईद नहीं मनाता लेकिन, अगर कोई अपना त्योहार मनाएगा तो सरकार उसमें सहयोग करेगी और साथ ही सुरक्षा भी देगी।’

योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज करते हुए कहा, ‘हमें हिंदू होने पर गर्व है लेकिन हम वैसे हिंदू नहीं है जो घर में जनेऊ धारण करें और बाहर निकलकर टोपी पहन लें।’ उन्होंने आगे कहा, ‘ऐसा वो लोग करते हैं जिनके मन में पाप होता है।’

हम ‘ग’ से ‘गधा’ नहीं, ‘ग’ से गणेश’ पढ़ाएंगे-

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, ‘विपक्ष महापुरुषों की जयंती/पुण्यतिथि पर छुट्टी खत्म किए जाने पर सवाल कर रहा है जबकि जनता ने इनकी ही छुट्टी कर दी है। आपकी मानसिकता ही दूषित है। आप ‘ग’ से ‘गणेश’ नहीं ‘गधा’ पढ़ाते हैं। हम ‘गणेश’ पढ़ाएंगे।

यह भी पढ़ें: 19 साल के इस भारतीय सिपाही को अंग्रेजों ने दिया था सर्वोच्च पुरस्कार

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार नया पाठ्यक्रम ला रही हैं जिसमें हम महापुरुषों के बारे में बच्चों को बताएंगे। योगी जी ने आगे कहा, ‘मैं शिक्षामंत्री से कहूंगा कि एक-एक प्रति नेता प्रतिपक्ष सहित विपक्ष को भी दे दें जिससे इनको भी महापुरुषों के बारे में ज्ञान हो सके। विपक्ष के मुंह में जो भी आए बक दे, यह नहीं चलेगा। संसदीय लोकतंत्र की परंपराओं का पालन करना होगा।’

योगी ने समाजवाद को बताया सबसे बड़ा अंधविश्वास-

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आचार्य रजनीश (ओशो) के बहाने समाजवाद पर तंज करते हुए कहा कि समाजवाद अमीरों को गरीब, गरीबों को गुलाम और बुद्धिजीवियों को बेवकूफ बनाता है। केवल नेताओं को शक्तिशाली बनाता है।

उन्होंने आगे कहा कि ‘वाइट हाउस’ में रहने वाले समाजवाद की बात करते हैं। समाजवाद सबसे बड़ा अंधविश्वास है। आज के समाजवाद को देखकर लोहिया की आत्मा रो रही होगी। चीनी मिलों, उद्योगों को बंद करवाने वाले खुद को नौजवान-किसान हितैषी बता रहे हैं। क्रय केंद्रों पर इनके दलाल बैठते थे। ऐसा लगता था कि सरकार नहीं लुटेरे बैठे हैं। कब-क्या नोच खसोट लें।

यह भी पढ़ें: हिमालय के ‘विकिपीडिया’ है ये साधू, अब तक खींच चुके हैं 8 क्विंटल तस्वीरें

योगी ने कहा कि अराजकता व देशविरोधी गतिविधियों में शामिल होने वालों के लिए सरकार का संकल्प वही है जो भगवान श्रीराम का था…

‘निसिचर हीन करउँ महि भुज उठाइ पन कीन्ह।’
अर्थात: श्री रामजी ने भुजा उठाकर प्रण किया कि मैं पृथ्वी को राक्षसों से रहित कर दूँगा।

मौलवियों-धर्मगुरुओं को साधुवाद-

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार होली और जुमा एक दिन था। हमने कहा जुमा साल में 52 दिन होता है। होली एक दिन होती है। हमारी अपील पर मौलवियों एवं धर्मगुरुओं ने सदाशयता का परिचय देते हुए समय दो घंटे आगे बढ़ा दिया। इसके लिए उनको साधुवाद। त्योहार पर न्यूनतम उपद्रव हुए। उन्होंने विपक्ष से कहा कि आपने तो थानों में कृष्ण जन्माष्टमी बंद कर दी, हमने इसे फिर शुरू किया। उन्होंने कहा, ‘मैं ताजमहल भी गया था। आपको बुरा लगा क्योंकि आपको लगा कि यह आपका पेटेंट है।’

अब आपकी ‘चिट’ पर नौकरी नहीं मिलेगी-

नौकरियां न देने के विपक्ष के आरोप पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 15 साल में नौजवान सबसे ज्यादा ठगे गए। हमनें भर्तियों से भ्रष्टाचार खत्म किया है। अब आपकी ‘चिट’ पर लिखी सिफारिश पर नौकरियां नहीं मिलेंगी। पूरी प्रक्रिया हम पारदर्शी कर रहे हैं। शिक्षामित्रों के साथ आपकी सरकार ने विश्वासघात किया जिसके चलते वह दर-दर भटक रहे हैं। अगर आपने नियमावली बना भर्ती की होती तो सुप्रीम कोर्ट से विपरीत निर्णय नहीं आता। एक वर्ष में प्रदेश को लेकर धारणा बदली है। इन्वेस्टर्स समिट इसका सबसे बड़ा प्रमाण है।

लाल झंडे के बाद अब लाल टोपी की बारी-

पूर्वोत्तर में चुनाव के नतीजों का उल्लेख करते हुए कहा कि त्रिपुरा में लाल झंडे को डुबो दिया, प्रदेश में लाल टोपी को डुबो देंगे। अब केसरिया का समय आ गया है। केसरिया वैभव का प्रतीक है। अब लाल टोपी के सफाया होने का समय है। वहीं, योगी ने गोरखपुर व फूलपुर के होने वाले लोकसभा उपचुनाव में बसपा के सपा को समर्थन देने पर तंज किया कि हार की हताशा में ही आप (समाजवादी पार्टी) बसपा की गोद में बैठ गए। सपा-बसपा के साथ-साथ कांग्रेस के सदस्य के टोका-टाकी करने पर योगी ने कहा कि आपका तो खाता ही नहीं खुला।

बसपा अब ‘बहुजन समाजवादी पार्टी’-

योगी ने लोकसभा उपचुनाव में सपा और बसपा के साथ आने पर भी चुटकी ली। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान कभी-कभी मेरे मुंह से निकल जाता था बहुजन समाजवादी पार्टी। आज यह बात सच हो गई। बसपा अब बहुजन समाजवादी पार्टी हो गई है। उन्होंने बसपा के नेता लालजी वर्मा से कहा कि आप को मुबारक हो। सपा को कंधे पर ढोइये लेकिन ये सुधरेंगे नहीं। हमने तो आपके स्मारकों का संरक्षण किया। ये तो ध्वस्त करना चाहते थे। चाय पर बैठिएगा तो ये भी पूछिएगा कि आगे कोई गेस्ट हाउस कांड तो नहीं होगा। गोरखपुर व फूलपुर के नतीजे दिखा देंगे कि दोस्ती कितनी परवान चढ़ी।